अपनी हार पर Pakistan के प्रधानमंत्री इमरान खान को सम्मानजनक इस्तीफा

0
118
अपनी हार पर Pakistan के प्रधानमंत्री इमरान खान को सम्मानजनक इस्तीफा
अपनी हार पर Pakistan के प्रधानमंत्री इमरान खान को सम्मानजनक इस्तीफा

Pakistan के इमरान सरकार

Pakistan के इमरान सरकार की आये दिन मुश्किलें बढ़ती जा रही है. इमरान सरकार पर मुशीबतों के बादल मंडरा रहे है. सरकार की मुश्किले काम होने का नामा ही नहीं ले रही है. पाकिस्तान में हुए सीनेट चुनावों में इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ को करारा झटका लगा है. 37 सीटों पर वोटिंग खत्म होने के साथ नतीजे आने लगे जिनमें पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के उम्मीदवार और पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने PTI के हफीज शेख को हरा दिया है. बताया जा रहा है कि PTI के नेताओं ने भी PPP के पक्ष में वोट दिया जिससे राजनीतिक उथल-पुथल आने की संभावना पैदा हो गई है.

Pakistan के उच्च सदन में 96 सीटें

हफीज शेख ने पहले भी अपने बयानों से इमरान सरकार की मुश्किलें को बड़ा दिया है. सबसे पहले बलूचिस्तान में निर्दलीय उम्मीदवार अब्दुल कादिर ने जीत हासिल की. इन चुनावों में सिंध, खैबर पख्तूनख्वा, बलूचिस्तान और इस्लामाबाद से 78 उम्मीदवार मैदान में थे. सरकार को लगे झटके में गिलानी ने 5 वोटों से शेख को हरा दिया. गिलानी को 169 वोट मिले थे जबकि शेख को 164. पाकिस्तान के उच्च सदन में 96 सीटें हैं.

प्रोविंशियल असेंबली में वोटिंग जारी रही जहां पहले से अंदर मौजूद विधायकों को वोट डालने की इजाजत चुनाव आयोग ने दी थी. पंजाब में वोट नहीं पड़े हैं जहां PTI निर्विरोध जीत दर्ज कर चुकी है.

Also read : प्यार की निशानी TAJ MAHAL को बम से उड़ाने की कोशिश

 यूसुफ रजा गिलानी की जीत

इस्लामाबाद सीट से पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने पाकिस्तान सरकार में वित्त मंत्री हाफीज शेख को हराया है. गिलानी संयुक्त विपक्ष पीडीएम यानी पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट के उम्मीदवार थे, लेकिन वह बिलावल भुट्टो जरदारी की पार्टी PPP (Pakistan Peoples Party) से हैं. शेख की हार से उत्साहित विपक्ष ने बुधवार को प्रधानमंत्री इमरान खान को सम्मानजनक तरीके से इस्तीफा देने के लिए कहा. वहीं, वित्त मंत्री के हार के बाद विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान संसद में विश्वास मत का सामना करेंगे.

Pakistan मुस्लिम लीग

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी (Shah Mehmood Qureshi) ने कहा कि संसद में यह स्पष्ट करने की जरूरत है कि कौन इमरान खान के साथ है और किसे पाकिस्तान पीपल्स पार्टी या नवाज शरीफ की पाकिस्तान मुस्लिम लीग (Pakistan Muslim League-Nawaz) पसंद है. कुरैशी ने कहा कि जो लोक इमरान खान के साथ खड़े हैं उन्हें एक तरफ देखा जाएगा और जो नहीं हैं और उन्हें लगता है कि PPP और PML-N की विचारधारा का समर्थन करते हैं उन्हें उनके रैंक में शामिल होने का अधिकार है.

आपस में मारपीट

एक दिन पहले ही पाकिस्तान की सिंध विधानसभा का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें दिख रहा था कि इमरान की पार्टी के नेता आपस में मारपीट कर रहे थे. पार्टी के तीन नेताओं ने ऐलान किया था कि वे सीनेट चुनाव में पार्टी लाइन के मुताबिक नहीं बल्कि अपनी इच्छा और विवेक से वोट डालेंगे. उन्होंने चुनाव के टिकट बंटवारे में पैसे लेकर टिकट देने का आरोप लगाया था. इससे नाराज PTI के दूसरे नेताओं ने सदन के अंदर ही ‘बागी’ नेताओं की पिटाई कर डाली.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें