Delhi : दिल्ली में आज से लगा नाईट कर्फ्यू

0
110
delhi night curfew
delhi night curfew

दिल्ली(Delhi) में आज से लगा नाईट कर्फ्यू

देश में दिन पर दिन कोरोना वायरस के केस तेज़ी से बढ़ रहे हैं. इसी को मद्दे नज़र रखते हुए दिल्ली में मंगलवार रात से कर्फ्यू लगाने का एलान हुआ है. मंगलवार को एक दिन पहले के मुकाबले एक लाख से कम मामले सामने आए और मौत का आंकड़ा भी गिरा. लेकिन दिल्ली(Delhi) में 30 अप्रैल तक लगाए गए नाइट कर्फ्यू के तहत रात 10 से लेकर सुबह 5 बजे तक लोगों को घर से निकलने पर मनाही होगी.

नाईट कर्फ्यू क्या होता हैं

नाइट कर्फ्यू में रात से सुबह तक लोगों के सार्वजनिक स्थानों पर घूमने-फिरने की मनाही होती है. यह टाइमिंग हर सरकार के अनुसार बदल भी जाता है. इस दौरान लोग बेवजह घर से बाहर नहीं निकल सकेंगे.

Also Read: उत्तर प्रदेश में Corona के 14,073 सक्रिय मामले, लखनऊ में सबसे ज्यादा मरीज

दिल्ली(Delhi) में कोरोना की चौथी लहर

पिछले हफ्ते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा था कि दिल्ली(Delhi) में कोरोना के संक्रमण की चौथी लहर चल रही है, लेकिन लॉकडाउन लगाने पर अभी विचार नहीं किया जा रहा है. उन्होंने कहा था कि हम लॉकडाउन लगाने पर विचार नहीं कर रहे हैं. हम स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं और इस तरह का निर्णय उचित सार्वजनिक परामर्श के बाद ही लिया जाएगा.

सरकार ने बयान दिया

दिल्ली सरकार ने एक बयान में कहा, “30 अप्रैल तक सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक कर्फ्यू, तत्काल प्रभाव से COVID19 स्थिति के मद्देनजर दिल्ली में लगाया गया कर्फ्यू.”\

Also Read:पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण का मतदान आज , पीएम करेंगे चुनावी रैली को संबोधित

इनोक्यूलेशन साइट चौबीसों घंटे चलेंगी

दिल्ली(Delhi) सरकार ने आदेश दिया है कि उसके अस्पतालों में 1/3 इनोक्यूलेशन साइट चौबीसों घंटे चलती हैं और सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ निजी अस्पतालों में कोरोनोवायरस रोगियों के लिए आरक्षित बेडों की संख्या बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में 3,500 से अधिक ताज़ा COVID-19 दर्ज किए गए हैं.

दिल्ली(Delhi) में पिछले 24 घंटो में 15 मौतें

सोमवार को दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, पिछले 24 घंटों के भीतर सीओवीआईडी -19 संक्रमण के कुल 3,548 नए मामले और 15 मौतें हुईं. सोमवार को संचयी मामलों की संख्या 6,79,962 थी. 6.54 लाख से अधिक मरीज बीमारी से उबर चुके हैं. पिछले कुछ हफ्तों में मामलों में भारी उछाल के बीच केस पॉजिटिविटी रेट भी बढ़कर 5.54 फीसदी हो गया.

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें