मोदी की नई Scheme : अब salary पर भी GST .

0
113
मोदी की नई Scheme : अब salary पर भी GST .
मोदी की नई Scheme : अब salary पर भी GST .

नौकरी पेशा लोगो के लिए बड़ी ख़बर , अब notice period में serve ना करने पर देना होगा GST.

अपनी नौकरी के नोटिस पीरियड को पूरा किए बिना नौकरी छोड़ने वाले workers को नोटिस पीरियड की बची हुई duration के लिए कंपनी को कुछ रकम चुकानी होती है.

ऐसे वर्कर्स जो बिना नोटिस पीरियड पूरा किए कंपनी की नौकरी छोड़े कर जाएंगे उन्हें कंपनी को तो अब एक तय रकम देनी ही होगी। साथ ही ऐसे उन्हें को सरकार को 18% GST भी भरना होगा. यानी full & final payment पर आपको 18% GST देना होगा. The Gujarat Authority of Advance Ruling ने इसे लेकर एक बड़ा फैसला दिया है.

फैसले में कहा गया है कि “नोटिस पीरियड को पूरा किए बिना कंपनी की नौकरी छोड़ने वाले कर्मचारी को बची हुई अवधि के लिए कंपनी को वेतन राशि का भुगतान करने के साथ 18 परसेंट GST भी भरना होगा.”

 

Also Read : मंदिर जहाँ चढ़ता है चॉकलेट

क्या है मामला

दरअसल, अथॉरिटी एक केस की hearing कर रही थी, जिसमें अहमदाबाद की एक कंपनी Amneal Pharmaceuticals में काम कर रहे वर्कर ने एडवांस रूलिंग की मांग की थी. जिसमें वह अपनी कंपनी क्र नोटिस पीरियड जो 3 महीनो का था को सर्वे किये बिना ही नौकरी छोड़ना चाहता था. इस मामले पर अथॉरिटी ने फैसला वर्कर के खिलाफ देते हुए खा की कोई कर्मचारी अगर अपॉइंटमेंट लेटर में लिखे गए नोटिस पीरियड पूरा किए बिना नौकरी छोड़ता है तो उससे 18% की GST सरकार को चुकाना होगा.

कंपनियों के लिए नोटिस पीरियड क्यों जरूरी?

अक्सर कंपनी कर्मचारी के appointment letter में एक नोटिस पीरियड का जिक्र करती है. जो कि हर पद और ओहदे के हिसाब से अलग अलग भी हो सकता है. जब कोई कर्मचारी नौकरी छोड़ता है, तो उसे उस नोटिस पीरियड तक काम करना होता है, ताकि कंपनी उसके रिप्लेसमेंट का इंतजाम कर सके. अगर कोई कर्मचारी अपने नोटिस पीरियड से कम काम करता है तो कंपनी उससे इसके लिए भुगतान मांगती है.

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें