Lucknow Suicide: कैंट इलाके में कार में मिली दो लाशें

0
74
Lucknow Suicide: कैंट इलाके में कार में मिली दो लाशें
Lucknow Suicide: कैंट इलाके में कार में मिली दो लाशें

Lucknow Suicide: कैंट इलाके में कार में मिली दो लाशें

राजधानी लखनऊ(Lucknow Suicide) के कैंट इलाके में सोमवार को रात 9 बजे के करीब एक कार खड़ी मिली.आर्मी की पेट्रोलिंग (Army Patrolling) टीम उधर निकली तो संदिग्ध कार को देखकर चौकन्ना हो गई. कार के पास पहुंचे जवानों ने अंदर का नजारा देखा तो उनके होश उड़ गए. बंद कार में मिली खून से लतपत दो लाशें जो एक महिला की थी और एक पुरुष की.

Also Read:सीतापुर: छेड़छाड़ से तंग आकर छात्रा ने किया Suicide

दोनों के लगी थी गोली

छानबीन के बाद, पुरुष का नाम संजय निगम हैं जो 50 की उम्र का था और महिला का नाम आशा अग्रवाल था जो 35 वर्षीय महिला थी. आपको बता दे महिला को सीने में गोली लगी थी. वहीं संजय को माथे के बीच में. पुलिस के मुताबिक, प्रेम प्रसंग का मामला लग रहा हैं. युवती की हत्या के बाद संजय ने खुदकुशी की है.

Also Read:MS Dhoni के एक और एक्टर Sandeep Nahar ने किया suicide

मौके पर मिला सुसाइड नोट

फोरेंसिक टीम को कार के अंदर से दो पन्ने का एक सुसाइड नोट मिला है. एडीसीपी पूर्वी के मुताबिक, सुसाइड नोट में संजय निगम ने लिखा है कि मेरी मौत की जिम्मेदार अंजू नाम की महिला है. उसने मेरी जिंदगी खराब कर दी है. वह मेरी दुकान पर कब्जा करना चाहती है. पुलिस ने सुसाइड नोट कब्जे में ले लिया है। पुलिस के मुताबिक, अंजू कौन है? यह अभी साफ नहीं हो सका है.

Also Read:Uttar Pradesh: खड़े कंटेनर में कार भिड़ने से तीन लोगों की मौत , तीन घायल

कार जल्द की खरीदी थी

कार के नंबर के आधार पर मालिक का नाम व पता निकाला गया.कार संतोष शर्मा के नाम से रजिस्टर थी. वह तेलीबाग के रहने वाले हैं. पुलिस संतोष के घर गई. वहां पता चला कि कुछ दिन पहले कार को उन्होंने संजय निगम के हाथ बेची थी. कार का कागज अभी ट्रांसफर नहीं किया था.

Also Read:नहीं रहे लखनऊ के स्वर्णिम इतिहास को दुनिया के सामने रखने वाले इतिहासकार योगेश प्रवीण

दो गोली हुई मिसिंग

प्रभारी निरीक्षक कैंट नीलम राणा के मुताबिक, कार में .32 बोर की लाइसेंसी रिवाल्वर (Licence Revolver) मिली है, जिससे चार गोलियां चलने की पुष्टि हुई है. दो गोलियां मिस हो गई थीं. वहीं एक गोली युवती और एक गोली संजय को लगी थी. पुलिस ने रिवॉल्वर को कब्जे में ले लिया है और रिवाल्वर को फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है.

Also Read:5 साल की लड़की के साथ नाबालिक लड़को ने किया Gang Rape

आर्मी ने देखी कार

पुलिस के मुताबिक, रात करीब नौ बजे आर्मी की पेट्रोलिंग टीम उधर से निकली तो संदेह हुआ कि नाइट कर्फ्यू के दौरान कार कार वहां क्यू कड़ी खड़ी हैं. आर्मी पेट्रोलिंग टीम को उसके अंदर बैठकर शराब पीने वालों की आशंका थी. तो वो कार के पास गए और देखा तो उनके होश उड़ गए. तुरंत ही उन्होंने पुलिस को सूचना दी. दो शव मिलने की सूचना पर इंस्पेक्टर नीलम राणा, एसीपी डॉ. अर्चना सिंह, एडीसीपी एसएम कासिम आबिदी, डीसीपी संजीव सुमन, जेसीपी क्राइम नीलाब्जा चौधरी पहुंचे. सभी अधिकारियों ने पड़ताल की जिसके बाद पुलिस ने दावा किया कि युवती की हत्या के बाद संजय ने खुद को गोली से उड़ाया है.

Also Read:Lucknow: इन जगहों पर अब मास्क नहीं लगाने पर देना होगा जुर्माना

शेफ किचन रेस्ट्रॉन्ट का था मालिक

एडीसीपी पूर्वी एसएम कासिम आबिदी के मुताबिक, मूलरूप से कैंट के रामदास का हाता निवासी संजय निगम शेफ किचन के नाम से रेस्टोरेंट चलाते हैं. रामदास हाता का आवास उन्होंने किराए पर उठा रखा था.वह अपनी बीवी और एक बेटी व एक बेटा के साथ गोमतीनगर इलाके में रहते थे. वही दूसरी ओर कैंट इलाके में रहने वाली आशा अग्रवाल के पति की मौत हो चुकी थी और वो अपने एक बेटी व एक बेटा के साथ रहती थी. दोनों के बीच संबंध के बारे में दोनों के परिवार जानते थे.

Also Read:पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में शहीद हुए जवान

 

 

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें