Meghan Markle: ब्रिटेन के राजघराने पर गंभीर आरोप

0
109
Meghan Markle: ब्रिटेन के राजघराने पर गंभीर आरोप
Meghan Markle: ब्रिटेन के राजघराने पर गंभीर आरोप

प्रिंस हैरी की पत्नी Meghan Markle ने ब्रिटेन के राजघराने पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा है कि शाही परिवार (Royal Family) के सदस्य उनके बेटे आर्ची के रंग को लेकर ताने कसते थे. मेगन के मुताबिक, वह राजघराने द्वारा किए जाने वाले रंगभेद से इस कदर परेशान हो गई थीं कि उन्होंने आत्महत्या जैसा गंभीर कदम उठाने के बारे में भी सोचा था. सिलेब्रिटी टॉक शो होस्ट ओपरा विनफ्रे को दिए इंटरव्यू में मेगन मार्कल और प्रिंस हैरी ने शाही परिवार से जुड़े कई रहस्यों से पर्दा उठाया है.

Meghan Markle के बेटे को राजकुमार के तौर पर नहीं देखना चाहते

इंटरव्यू के दौरान मेगन मार्कल ने कहा कि शाही परिवार के लोग उनके बेटे को राजकुमार के तौर पर नहीं देखना चाहते थे, क्योंकि उन्हें लगता था कि आर्ची का रंग काला है. हालांकि, मेगन ने किसी का नाम नहीं लिया. प्रिंस हैरी ने बताया कि उनके पिता प्रिंस चार्ल्स (Prince Charles), जो ब्रिटिश सिंहासन के उत्तराधिकारी थे, ने उनका फोन तक उठाना बंद कर दिया था और उन्हें आर्थिक रूप से भी किसी तरह की कोई सहायता नहीं की थी. आज (सोमवार) सुबह प्रसारित इस इंटरव्यू पर अब तक शाही परिवार ने कोई टिप्पणी नहीं की है.

Meghan Markle बातों से दुखी

मेगन ने ओपरा विनफ्रे को बताया कि महल में होने वाली बातों से वह बेहद दुखी थीं, वहां उन्हें अपनापन नहीं लगता था. इसलिए उन्होंने और प्रिंस हैरी ने राजघराना छोड़ने का फैसला लिया. वहीं, प्रिंस हैरी ने कहा कि वह अपनी दादी महारानी एलिजाबेथ (Queen Elizabeth) का बहुत सम्मान करते हैं. उन्होंने कहा, ‘जब पिता ने मेरा फोन उठाना बंद कर दिया, तो मैंने अपनी दादी से तीन बार बात की. उन्होंने हमेशा मेरी हिम्मत बढ़ाई’.

Also read :Deepika Padukone ने अपने नाम दर्ज किया एक और रिकॉर्ड

भावुक हुईं Meghan Markle

इंटरव्यू के दौरान, मेगन मार्कल काफी भावुक भी हो गई थीं. एक सवाल के जवाब में उनकी आंखों से आंसू तक निकलने लगे. मेगन ने कहा कि शाही परिवार का माहौल उनके अनुकूल नहीं था. वहां सब मुझसे अलग -अलग रहते थे, मेरे बच्चे को लेकर कमेंट किए जाते थे. एक समय ऐसा भी आया जब मैंने अपनी जान देने का सोचा, लेकिन हैरी ने सही समय पर मुझे संभाल लिया. उन्होंने आगे कहा कि महल में उनका ध्यान कोई नहीं रखता था. उन्होंने अपने पति के भाई प्रिंस विलियम की पत्नी केट पर उन्हें रुलाने का आरोप भी लगाया.

 शाही परिवार में रंगभेद के खिलाफ

मेगन मार्कल ने कहा कि शाही परिवार में होने वाले रंगभेद के खिलाफ आवाज उठाने की उन्होंने कई बार कोशिश की, लेकिन हर बार उन्हें खामोश करवा दिया गया. बता दें कि जनवरी 2020 में प्रिंस हैरी और मेगन ने राजघराने से अलग होने की घोषणा की थी. अपने इस फैसले के बारे में बताते हुए हैरी ने कहा, ‘हमारे लिए इतना बड़ा फैसला लेना आसान नहीं था. लेकिन शाही परिवार में जिस तरह का माहौल था, उसमें रहना बेहद मुश्किल हो गया था’. उन्होंने अपनी मां डायना को याद करते हुए कहा, ‘मैं नहीं चाहता था कि इतिहास खुद को दोहराए. वहां हमें समझने वाला कोई नहीं था, इसलिए हमने शाही परिवार से नाता तोड़ना ही बेहतर समझा.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें