Sachin Waje पर NIA ने लगाया UAPA

0
40
NIA imposed UAPA on Sachin Waje
NIA imposed UAPA on Sachin Waje

NIA imposed UAPA on Sachin Waje

मुंबई में 25 फरवरी को उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के निकट एक कार से विस्फोटक बरामद हुए थे। इस मामले में वाजे NIA की हिरासत में हैं।महाराष्ट्र में एंटीलिया केस और वसूली कांड के बीच सचिन वाजे को लेकर रोजाना नए खुलासे हो रहे हैं. लक्ज़री गाड़ियों के अलावा गिरफ्तार एपीआई सचिन वाजे का एक और हाई-फाई स्टाइल सामने आया है जिसकी जांच एनआईए कर रही है. एनआईए सूत्रों ने बताया कि साउथ मुम्बई के फाइव स्टार हॉटेल जिसके सीसीटीवी फुटेज और रिकॉर्ड्स की जांच कुछ दिनों पहले एनआईए ने की थी वहां पर सचिन वाजे ने 100 रातों के लिए रूम बुक कराया था.

यूएपीए

राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) ने महाराष्ट्र पुलिस से निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाजे के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां अधिनियम (यूएपीए) की धाराएं लगाई हैं।  एनआईए ने बुधवार को विशेष एनआईए अदालत को इस मामले में यूएपीए की धाराएं जोड़ने की जानकारी देते हुए अर्जी दाखिल की थी। सूत्रों के मुताबिक, मुंबई पुलिस में सहायक निरीक्षक वाजे पर यूएपीपीए की धारा 16 और 18 के तहत आरोप लगाए गए हैं।

Also read:फिल्म “Gangubai Kathiawadi” को लेकर जारी हुआ समन

यूएपीए कानून

इस कानून के तहत सरकार ऐसे लोगों की पहचान करती है, जो आतंकी गतिविधियों में शामिल हैं। इस कानून में आतंकवादी घटना के लिए किसी को तैयार करना, उसे बढ़ावा देता है उस पर इसे लगाया जा सकता है जिसके तहत संबंधित व्यक्ति की संपत्ति को जब्त किया जा सकता है। इससे सरकार को यह ताकत मिली कि वह आतंकवादी गतिविधियो में सामिल व्यक्ति को आतंकवादी घोषित कर सकती है।

गंभीर खुलासे

NIA वाजे से लगातार पूछताछ कर रही है पुलिस सूत्रों की मानें तो वाजे अभी भी कई गंभीर खुलासे कर सकते हैं। पुलिस कई पुराने मामलों में भी उनसे पूछताछ कर रही है।

हिरन की हत्या

एजेंसी मनसुख हिरन की हत्या के मामले की भी जांच कर रही है। इस बीच, ठाणे की एक अदालत ने बुधवार को महाराष्ट्र आतंकवाद रोधी दस्ते को हिरन की मौत के मामले की जांच को रोकने और मामले से संबंधित रिकॉर्ड तत्काल एनआईए को सौंपने का निर्देश दिया है।बता दें कि हिरन का शव पांच मार्च को ठाणे में एक नहर से मिला था। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 20 मार्च को इस मामले की जांच NIA को सौंप दी थी। मगर एटीएस की जांच भी जारी थी। एटीएस ने दो दिन पहले दावा किया था कि उसने हिरन की मौत की गुत्थी सुलझा ली है। वाजे से एनआईए लगातार पूछताछ कर रही है पुलिस सूत्रों की मानें तो वाजे अभी भी कई गंभीर खुलासे कर सकते हैं। पुलिस कई पुराने मामलों में भी उनसे पूछताछ कर रही है।

शिंदे और गौड़

एटीएस ने पिछले हफ्ते शिंदे और गौड़ को गिरफ्तार किया था .NIA ने हिरन की हत्या के मामले में महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) द्वारा गिरफ्तार किए गए दो आरोपियों को बुधवार शाम हिरासत में ले लिया। एक अधिकारी ने बताया कि एनआईए ने दोनों निलंबित पुलिसकर्मी विनायक शिंदे और क्रिकेट सटोरिया नरेश गौड़ को हिरासत में लिया। बता दें कि एटीएस ने पिछले हफ्ते शिंदे और गौड़ को गिरफ्तार किया था।

 

written by: Vijayanka Yadav

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें