फ्रांस से तीन और Rafale Fighter Aircraft बुधवार को भारत पहुंचे

0
20
फ्रांस से तीन और Rafale Fighter Aircraft बुधवार को भारत पहुंचे
फ्रांस से तीन और Rafale Fighter Aircraft बुधवार को भारत पहुंचे

फ्रांस से तीन Rafale लड़ाकू विमान बुधवार को भारत पहुंचे. इन नए विमानों के शामिल होने से भारतीय वायुसेना को और मजबूती मिली है. इन विमानों ने फ्रांस के इसत्रेस वायुसेना अड्डे (Istres air force) से उड़ान भरी थी. ये विमान बिना रुके भारत पहुंचे, इन विमानों में संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के वायु सेना टैंकरों ने आसमान में ही ईंधन भरा.

Also read: अभिनेता Rajinikanth को 51वां Dada Sehab Phalke award से सम्मानित किया जाएगा

यूएई के वायु सेना टैंकरों ने आसमान में ही ईंधन भरा

भारतीय वायु सेना ने आसमान में ही ईंधन उपलब्ध कराने के लिए यूएई वायुसेना के लिए आभार व्यक्त किया है. भारतीय वायुसेना ने कहा कि यूएई वायुसेना की इस मदद के लिए हम उनका आभार व्यक्त करते हैं. यूएई वायुसेना की इस पहल से दोनों देशों के बीच रिश्ते और मजबूत होंगे.

Also read:बॉलीवुड अभिनेत्री Kirron Kher ब्लड कैंसर से पीड़ित

फ्रांस से निकले तीन Rafale लड़ाकू विमान

भारतीय एयरफोर्स की ताकत में और इजाफा हो गया है. फ्रांस से निकले तीन राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Aircraft) बीती देर रात गुजरात (Gujarat) के जामनगर एयरबेस (Jamnagar airbase) पर उतरे है. इस बात की जानकारी समाचार एजेंसी पीटीआई ने दी है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ये लड़ाकू विमान अंबाला (Ambala) में गोल्डन एरो स्क्वाड्रन (Golden arrow squadron) का हिस्सा होंगे.

Also read: Uttarpradesh में 45 वर्ष से ऊपर वाले लोगों का Vaccination आज से शुरू

भारत के पास 14 लड़ाकू Rafale विमान हो गए

बीती रात तीन राफेल आते ही, अब हमारे पास 14 लड़ाकू विमान हो गए हैं। फ्रांस से उड़ान भरने के बाद तीनों लड़ाकू विमान यूएई (UAE) के रास्ते होते हुए भारत पहुंचे हैं. रास्ते में यूएई एयरफोर्स (UAE Air Force) की मदद से राफेल विमानों में हवा में ही ईंधन (Fuel) भरा गया.

Also read: West Bengal Assembly Election: दूसरे चरण की 30 विधानसभा सीटों पर मतदान

फ्रांस से 7 या 8 Rafale और आने हैं

सरकारी सूत्रों का कहना है कि अप्रैल के महीने में फ्रांस से 7 या 8 राफेल और आने हैं. इसके बाद भारत (India) में राफेल लड़ाकू विमानों की संख्या 21 हो जाएगी. अभी 11 लड़ाकू विमाना अंबाला की 17वीं स्क्वाड्रन का हिस्सा हैं। आज जो तीन विमान आए हैं, ये भी अंबाला की 17वीं स्क्वाड्रन का हिस्सा बनेंगे.

Also read: Sooryavanshi की रिलीज डेट एक बार फिर टल गई है, अब OTT पर होगी रिलीज?

Rafale की खासियत

राफेल की खासियत की बात करें तो यह लड़ाकू विमान बहुत ही एडवांस है. लड़ाकू विमान राफेल चौथी पीढ़ी का फाइटर जेट है. यह एक नहीं बल्कि कई रोल निभाने में सक्षम कॉम्बैट फाइटर जेट है. यह ग्राउंड सपोर्ट से लेकर डेप्थ स्ट्राइक और एंटी शिप अटैक में सक्षम है. इसकी ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह 9500 किलोग्राम भार उठाने में सक्षम है. राफेल अधिकतम 24500 किलोग्राम वजन के साथ उड़ान भर सकता है. इसकी रफ्तार 1389 किमी प्रति घंटा है.

Also read: कोरोना वायरस: Delhi सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन्स

Rafale विमान खरीदने का सौदा

इससे करीब चार साल पहले फ्रांस से 59,000 करोड़ रुपये में 36 राफेल विमान खरीदने का सौदा किया गया था. इन विमानों को पिछले साल 10 सितंबर को अंबाला में एक कार्यक्रम में आधिकारिक रूप से भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया. तीन राफेल विमानों का दूसरा जत्था तीन नवंबर को भारत पहुंचा था जबकि 27 जनवरी 2021 को तीन और विमान वायुसेना को मिले थे।भारत को अगले कुछ महीनों में फ्रांस से और राफेल विमान मिल सकते हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें