West Bengal : विधानसभा चुनाव के पहले चरण में दिखी हिंसा

0
92
West Bengal : विधानसभा चुनाव के पहले चरण में दिखी हिंसा
West Bengal : विधानसभा चुनाव के पहले चरण में दिखी हिंसा

West Bengal : विधानसभा चुनाव के पहले चरण में दिखी हिंसा

West Bengal की 294 सदस्यीय विधानसभा चुनाव आठ चरणों में सम्पंन होगा.वहीं पहला चरण शनिवार को सम्पंन हुआ जिसमें 30 निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान हुआ है.वहीं पहले चरण में करीब 80 फीसदी मतदान भी हुआ.पहले चरण के दौरान जगह-जगह से हिंसा की खबरें आईं है.बता दें,27 मार्च को मतदान के दौरान दो निर्वाचन क्षेत्रों में हिंसक घटनाएं हुई है.हालांकि इस हिंसक घटना में कथित रूप से शामिल कम से कम 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.इस बात की जानकारी चीफ़ इलेक्शन ऑफिसर आरिज आफताब ने दी है.

वहीं आफताब ने बताया कि,वेस्ट मेदिनीपुर जिले की सलबोनी में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है,जहां कथित रूप से रूलिंग टीएमसी के समर्थकों ने CPM उम्मीदवार सुशांत घोष के साथ धक्का-मुक्की कर उनकी कार पर पथराव किया था. वहीं पूर्वी मेदिनीपुर के कांठी से तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है,जहां कथित रूप से TMC के सप्पोर्टर्स ने BJP लीडर शुभेंदू ऑफिसर के छोटे भाई सोमेंदू पर हमला किया और उनकी कार को भी डैमेज कर दिया.

ईस्ट मेदिनीपुर में सबसे ज्यादा 82.51 परसेंट , इसके बाद झाड़ग्राम में 80.56 परसेंट ,वेस्ट मेदिनीपुर में 80.12 परसेंट,बांकुड़ा में 79.90 परसेंट और पुरुलिया में 77.07 परसेंट मतदान हुआ.हालांकि कुछ इलाकों में मतदान केन्द्र पर हुई हिंसा से मतदान प्रक्रिया प्रभावित हुई.

Also read : फिल्मफेयर अवॉर्ड्स (Filmfare Awards 2021) की घोषणा आज

मतदान केंद्र के बाहर प्रदर्शन

ईस्ट मेदिनीपुर जिले के कांठी साउथ इलेक्शन एरिया में मतदाताओं ने EVM मशीनों में कथित रूप से खराबी आने पर एक मतदान केंद्र के बाहर प्रदर्शन किया.वहीं प्रदर्शनकारियों ने माजना में मतदान केंद्र के बाहर सड़क बाधित की और आरोप लगाया कि VVPAT पर्चे में दिख रहा है कि,उन्होंने जिस पार्टी के लिए मतदान किया है,उसके बजाए उनका मत किसी अन्य पार्टी को पड़ा है.

इलेक्शन कमीशन के एक ऑफिसर ने बताया कि,हालात को कंट्रोल करने के लिए घटनास्थल पर Central forces squad को भेजा गया और बाद में VVPAT मशीन को भी बदला गया.वहीं चीफ़ मिनिस्टर ममता बनर्जी ने वेस्टर्न मिदनापुर जिले में एक रैली में दावा किया कि,भाजपा ने EVP में गड़बड़ी की है और सेंट्रल फोर्सेज़ के माध्यम से मतदाताओं को डरा रही है. इसके अलावा, बीजेपी और तृणमल पर मतदाताओं को खाने के पैकेट,चाय और नाश्ता देकर उन्हें प्रभावित करने की कोशिश करने के आरोप लगे हैं.

Also read :Kanpur के कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के आईसीयू में लगी भीषण आगा

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें